Ad image

Tag: Kriti Sharma

आँखों में देखकर बात करने वालों के क्या सपने कुचले जाएँगे…….

मर्दानगी ........ हम तो मर्दानगी दिखाएँगे, आवाज़ उठाने वाले, अब कुचले जाएँगें । सपना उसने कैसे देखा, हम शीशे के साथ, सपनों पर भी मूसल चलायेंगे। मर्द हैं हम, मर्दानगी दिखायेंगे। औरत है, क्या औक़ात? आँख दिखाती,…

Dev Bhoomi Media
Translate »